मेहंदी क्या है? मेहंदी के प्रकार,फायदे, इतिहास और नुकसान क्या है?

आज हम जानेंगे मेहंदी के प्रकार,फायदे, इतिहास और नुकसान की पूरी जानकारी (Mehndi in Hindi) के बारे में क्योंकि भारतीय शादी विवाहो में मेहंदी की रस्म अवश्य निभाई जाती है, जिसमें दुल्हन को और दूल्हे को मेहंदी लगाई जाती है। मेहंदी का इस्तेमाल हाथों में लगाने के लिए किया जाता है, साथ ही बालों को काला करने के लिए भी इसका इस्तेमाल किया जाता है। मेहंदी काले रंग की भी आती है और ब्राउन रंग की भी आती है।

बालों में मेहंदी लगाने से हमारे जो भी बाल सफेद होते हैं, वह फिर से काले रंग में हो जाते हैं। इससे बालों की रंगत एक समान हो जाती है। आज के इस लेख में जानेंगे कि Mehndi Kya Hota Hai, मेहंदी के फायदे, Mehndi in Hindi, मेहंदी के नुकसान, आदि की जानकारीयां पूरा डिटेल्स में जानने को मिलेगा, इसलिये इस लेख को सुरू से अंत तक जरूर पढे़ं।

मेहंदी क्या है? – What is Mehndi in Hindi

मेहंदी के प्रकार,फायदे, इतिहास और नुकसान
Mehndi In Hindi

मेहंदी के अलग-अलग भाषाओं में कई नाम है परंतु मुख्य तौर पर यह मेहंदी और हिना के नाम से ही फेमस है। बता दे कि बालों में और हाथों में लगाने के लिए जो मेहंदी आती है, वह एक पौधे से हमें प्राप्त होती है, जिसके अंदर बहुत सारे शानदार गुण होते हैं। मेहंदी का इस्तेमाल बहुत साल पहले से ही हाथ, पैर और बालों की खूबसूरती को निखारने के लिए किया जा रहा है।

इसके अलावा यह अंदरूनी स्वास्थ्य को भी बढ़िया करने के काम में आती है। इसके अंदर एंटी फंगल, एंटी बैक्टीरियल, एंटी ऑक्सीडेंट और एंटीट्यूमर जैसे गुण मौजूद होते हैं। इसलिए स्वास्थ्य के लिए इसका इस्तेमाल अलग-अलग तरीके से किया जाता है। मेहंदी के पत्ते, छाल और बीज काफी उपयोगी होते हैं।

मेहंदी का इतिहास क्या है? – History of Mehndi in Hindi

12 वीं शताब्दी के आसपास में सल्तनत साम्राज्य की हमारे भारत देश में एंट्री हो गई थी और ऐसा कहा जाता है कि इसी दरमियान मेहंदी की स्टार्टिंग भी हमारे भारत देश में हो गई। मुगल काल के दरमियान भी मुगलों की बेगमें इसका इस्तेमाल सुंदरता बढ़ाने के लिए करती थी, साथ ही साथ श्रृंगार के तौर पर भी इसे अपने हाथों और पैरों में लगाती थी, तभी से लगातार मेहंदी का इस्तेमाल होते आया है और अब तो हर शादी ब्याह में मेहंदी लगाया ही जाता है।

ये भी पढ़ें : पिताया फल क्या होता है? ड्रैगन फ्रूट के फायदे, उपयोग और नुकसान

इसके बिना शादी ब्याह अधूरा माना जाता है। मुख्य तौर पर हिंदू धर्म के विवाह कार्यक्रमों में मेहंदी का काफी बड़े पैमाने पर इस्तेमाल किया जाता है, क्योंकि इसकी गिनती शुभ चीजों में होती है। कहा जाता है कि किसी दुल्हन के हाथों पर अगर मेहंदी का रंग गहरा होता है, तो उसके पति की उम्र लंबी होती है, साथ ही उसका शादीशुदा जीवन भी अच्छा रहता है।

मेहंदी कैसे बनती है?

मेहंदी तैयार करने के लिए सबसे पहले मेहंदी के पौधे को इकट्ठा किया जाता है और इसे सिलबट्टे पर पीस लिया जाता है और जब इसका गाढ़ा पेस्ट हो जाता है तब इसे प्लास्टिक के कोन में डाल दिया जाता है और इसे मार्केट में बेचने के लिए भेज दिया जाता है। बड़ी-बड़ी फैक्ट्रियों में बहुत सारे मेहंदी के पत्तियों को एक साथ ही पीसा जाता है और फिर इन्हें पैकिंग कर के बेचने के लिए तैयार किया जाता है।

मेहंदी डिजाइन के प्रकार – Types of Mehndi Design in Hindi

मुख्य तौर पर 6 प्रकार के मेहंदी के डिजाइन होते हैं जिनके नाम आपको नीचे बताए गए हैं।

  1. भारतीय मेहंदी डिजाइन
  2. अरबी मेहंदी डिजाइन
  3. पाकिस्तानी मेहंदी डिजाइन
  4. हिंदू-अरबी मेहंदी डिजाइन
  5. मोरक्कन मेहंदी डिजाइन
  6. मुगलाई मेहंदी डिजाइन

मेहंदी के फायदे क्या है? – Benefits of Mehndi in Hindi

नीचे जानिए मेहंदी लगाने के एडवांटेज क्या है अथवा मेहंदी लगाने से कौन से फायदे होते हैं।

1. डैंड्रफ में फायदेमंद है मेहंदी

डैंड्रफ को हिंदी लैंग्वेज में रूसी भी कहा जाता है। यह बहुत ही छोटे छोटे होते हैं जो सामान्य तौर पर हमारे बालों की जड़ों में होते हैं और बालों के ऊपरी भाग पर भी चिपके हुए होते हैं। अगर हम अपने बालों में जरा सा भी हाथ लगाते हैं तो यह झड़ करके जमीन पर और हमारे कपड़े पर गिर जाते हैं।

देखने में यह बहुत ही खराब लगते हैं। इससे छुटकारा पाने के लिए मेहंदी का इस्तेमाल बालों पर लगाने के लिए किया जा सकता है। मेहंदी के अंदर पाए जाने वाले anti-dandruff गुण के कारण यह बालों को फंगस से बचाने का काम करता है और उसी की प्रॉब्लम को भी खत्म करता है।

2. बालों का रंग बढ़ाता है मेहंदी

किसी ना किसी वजह से हमारे बालों में कुछ सफेद बाल भी पैदा हो जाते हैं। इससे हमारे बालों की रंगत असमान हो जाती है, साथ ही लोग हमें वृद्ध कहने लगते हैं। बालों को कलर करने के लिए मेहंदी का इस्तेमाल तो काफी समय से किया जा रहा है। यह आपके बालों को एक समान कलर में लाने में सहायक होता है। बता दे कि मेहंदी कई रंगों में आती है। इसलिए आप अपनी इच्छा के अनुसार किसी भी प्रकार के रंग का इस्तेमाल अपने बालों को कलर करने के लिए कर सकते हैं।

3. ऑक्सीडेटिव टेंशन कम करें मेहंदी

नेशनल सेंटर फॉर बायोटेक्नोलॉजी इनफॉरमेशन की वेबसाइट पर प्रकाशित रिपोर्ट के अनुसार मेहंदी के अंदर पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट गुण बालों को ऑक्सीडेटिव टेंशन से बचाने का काम करते हैं।

ये भी पढ़ें : अखरोट क्या होता है? अखरोट के फायदे, उपयोग और नुकसान

4. बालों की कंडीशनिंग करें मेहंदी

जब आप मेहंदी अपने बालों में लगाते हैं, तो मेहंदी बालों की जड़ों में जाकर के बालों की जड़ों में मौजूद गंदे तेल को हटाती है और बालों को कंडीशनिंग देती है। इससे बालों की जड़े मजबूत बनती हैं। मेहंदी को नेचुरल कंडीशनर भी कहा जाता है।

5. जड़ों की पीएच लेवल मेंटेन करें मेहंदी

क्या आप जानते हैं कि मेहंदी अपने बालों में लगा कर के आप बालों की जड़ों के पीएच लेवल को भी मेंटेन कर सकते हैं। इससे होता यह है कि बढ़ती उम्र के साथ आपके सर के जो बाल सफेद होते हैं, उनके सफेद होने की स्पीड में गिरावट आती है, साथ ही रूसी की समस्या से बचने के कारण आपके बालों की जड़ें मजबूत भी बनती हैं।

6. बालों को झड़ने से रोके मेहंदी

जिस प्रकार मेहंदी रूसी की समस्या से आजादी दिलाने में सहायक है और पीएच लेवल मेंटेन करने में भी सहायक है, उसी प्रकार मेहंदी लगाने से आपके बालों के झड़ने की स्पीड में भी काफी कमी आती है। इससे आप गंजेपन का शिकार होने से बच जाते हैं परंतु एक बात आपको यह भी बता दें कि, अगर आपके बाल लगातार गिर रहे हैं तो आपको बालों के डॉक्टर से अवश्य मिलना चाहिए।

7. बालों की ग्रोथ करें मेहंदी

अगर आपके बाल लंबे नहीं हो रहे हैं या फिर  झड़ नहीं रहे हैं तो आप अपने बालों को बढ़ाने के लिए मेहंदी का इस्तेमाल कर सकते हैं। बालों को लंबा करने के लिए मेहंदी एक औषधि के तौर पर काम करती है।

8. बालों को स्वस्थ बनाए मेहंदी

चाहे डैंड्रफ की समस्या से आजादी पानी हो, चाहे बालों की जड़ों को मजबूत बनाना हो, चाहे बालों के गिरने की स्पीड को कम करना हो। मेहंदी इन सभी समस्याओं से आप को बचाने का काम करती है और इन समस्याओं से आपको राहत देती है।

मेहंदी की तासीर कैसी होती है?

हमने खुद भी मेहंदी अपने बालों पर लगाई है और इसे लगाने के बाद हमें काफी ठंडक महसूस हो रही थी। इसलिए यह हम पक्के तौर पर कहते हैं कि मेहंदी की तासीर ठंडी होती है। इसीलिए ठंडी तासीर होने के कारण इसे छोटे-मोटे घाव में या फिर जहां पर जलन हो रही है वहां पर भी लगाया जा सकता है, ताकि यह वहां पर ठंडक प्रदान करें।

मेहंदी के नुकसान क्या है? – Side Effects of Mehndi in Hindi

नीचे आपको मेहंदी लगाने के साइड इफेक्ट अथवा मेहंदी लगाने के डिसएडवांटेज कौन से हैं, इसकी इंफॉर्मेशन दी गई है।

1. सर्दी जुखाम की प्रॉब्लम

हालांकि यह सभी लोगों को नहीं होता है परंतु कुछ लोगों को मेहंदी से एलर्जी होती है और ऐसे में वह अगर इसका इस्तेमाल करते हैं, तो उनकी नाक बह सकती है या फिर में सर्दी जुकाम की प्रॉब्लम हो सकती है।

2. त्वचा में सूजन

बाजार में कई केमिकल वाली मेहंदी भी मिलती है जिसे अगर आप लगा लेते हैं तो यह आपकी बॉडी में सूजन भी पैदा कर सकती है। इसके अलावा आपके बालों की जड़ों को भी नुकसान पहुंचा सकती है। इसलिए हर्बल या फिर आयुर्वेदिक मेहंदी ही लगाने के लिए इस्तेमाल करें।

ये भी पढ़ें : एप्सम साल्ट क्या होता है और कैसे काम करता है? एप्सम साल्ट के फायदे, उपयोग और नुकसान

3. आंखों की प्रॉब्लम

वैसे तो यह आंख में चले जाने पर ज्यादा प्रॉब्लम नहीं करती है परंतु फिर भी आपको आंखों में चुभन महसूस हो सकती है। इसलिए इसे लगाते समय ध्यान रखें कि यह आपकी आंखों में इंटर न करने पाए।

मेहंदी कहां से मंगाई जाती है?

राजस्थान में सोजत नाम का एक ऐसा इलाका है जहां पर मेहंदी भारी मात्रा में पाई जाती है। यहां तक कि यहां से दूसरे राज्यों के फैक्ट्री के मालिक भी मेहंदी मंगाते हैं और उन्हें आवश्यक प्रक्रिया के द्वारा तैयार करके पैकिंग कर के बेचते हैं। इसके अलावा इंडिया में केरल, तमिलनाडु, कर्नाटक, आसाम, बंगाल के कुछ ऐसे इलाके हैं जहां पर मेहंदी की खेती होती है।

मेहंदी का सबसे अच्छा ब्रांड कौन सा है?

नूपुर मेहंदी, शहनाज हुसैन मेहंदी, बंजारा नेचुरल मेहंदी पाउडर

मेहंदी का वानस्पतिक नाम क्या है?

लॉसनिया इनर्मिस

मेहंदी मुख्य तौर पर कहां लगाई जाती है?

बालों में और हाथ पैरों में

क्या हम अपने बालों में रात भर मेहंदी लगा सकते हैं?

गर्मियों के मौसम में ऐसा कर सकते हैं, ठंडी में ऐसा ना करें।

निष्कर्ष

आज के इस लेख में आपने जाना की मेहंदी क्या होता है? और मेहंदी के फायदे और नुकसान? (Mehndi in Hindi) इस लेख को पूरा पढ़ने के बाद भी अगर आपके मन में Mehndi Ke Fayde aur Nuksan को लेकर कोई सवाल उठ रहा है तो आप नीचे Comment करके पूछ सकते हैं। हमारी विशेषज्ञ टीम आपके सभी सवालों का जवाब देगी।

अगर आपको लगता है कि इस लेख में कोई गलती है तो आप नीचे Comment करके हमसे बात कर सकते हैं, हम उसे तुरंत सुधारने की कोशिश करेंगे। अगर आपको हमारे द्वारा Mehndi in Hindi पर दी गई जानकारी पसंद आई है और आपको इस लेख से कुछ नया सीखने को मिलता है, तो इसे अपने दोस्तों और परिवार के साथ जरूर शेयर करें। आप इस लेख का पोस्ट लिंक ब्राउजर से कॉपी कर सोशल मीडिया पर भी साझा कर सकते हैं।

Leave a Comment