दुबले पतले शरीर को मोटा कैसे बनाएं? जानिए मोटा होने के उपाय से जुड़ी जानकारी

आज हम जानेंगे दुबले पतले शरीर को मोटा कैसे बनाएं पूरी जानकारी (mota hone ke upay) के बारे में क्योंकि सूखा पापड़,पतली पेंसिल, हड्डी यह कुछ ऐसे ताने हैं, जो हर उस लड़के और लड़की को सुनने पड़ते हैं जो शरीर से इतने कमजोर होते हैं कि उन्हें देखकर ऐसा लगता है कि जैसे वह बहुत सालों से किसी गंभीर बीमारी से परेशान हैं। कुछ लोग तो इतने मोटे होते हैं कि उन्हें अपने मोटे पन से ही समस्या होती है और कुछ लोग इतने पतले होते हैं कि उन्हें अपने पतलेपन से प्रॉब्लम होती है।

मोटे लोग अपना वजन घटाने के उपाय हमेशा यहां वहां ढूंढते रहते हैं, वही पतले लोग किसी भी जतन को करके अपने वजन को बढ़ाने के उपाय अपने दोस्तो से पूछते रहते हैं या फिर इंटरनेट पर खंगालते रहते हैं परंतु कारगर तरीका वजन घटाने के लिए ना मिल पाने के कारण पतले लोग पतले ही रह जाते हैं और वह इसी को अपनी किस्मत मान लेते हैं परंतु मेरे दोस्त हर चीज बदली जा सकती है मन में ठान तो सही।

पतलापन क्या है?

दुबले पतले शरीर को मोटा कैसे बनाएं
Mota Kaise Ho

पतलापन का सीधा सा मतलब यही है कि शारीरिक रूप से इतना कमजोर होना कि ढंग से कोई भी काम ना कर पाना। पतलेपन की प्रॉब्लम हो जाने पर किसी भी काम को करने में व्यक्ति का मन नहीं लगता है और कोई भी कपड़े उसके शरीर के ऊपर अच्छे नहीं लगते हैं। ऐसे लोगों के चेहरे पर किसी भी प्रकार का कोई भी तेज नहीं होता है। इन्हें देखने पर ऐसा लगता है जैसे यह किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं।

पतलापन परमानेंट नहीं होता है। इसे कुछ आवश्यक उपाय करके दूर किया जा सकता है। हालांकि 1 ही दिन में चमत्कार की उम्मीद नहीं की जानी चाहिए परंतु यह बात निश्चित है कि 1 से 2 महीने के अंदर पतले लोग अपना वजन ठीक-ठाक कर सकते हैं और अच्छा उपाय करके 4 से 5 महीने के अंदर एक फिट बॉडी प्राप्त कर सकते हैं।

दुबले पतले शरीर को मोटा कैसे बनाएं?

कई दवाइयों में स्टेरॉयड मिला हुआ होने के कारण कभी-कभी मोटा होने की दवाई खाने वाले लोगों के लिवर में समस्या भी हो जाती है। इसलिए मोटा होने के लिए कभी भी हानिकारक दवाइयों को नहीं खाना चाहिए बल्कि स्वस्थ तरीका अपना कर के ही मोटा बनने का प्रयास करना चाहिए।

खैर पतलेपन की प्रॉब्लम से परेशान लोगों के लिए हमारा यह आर्टिकल इसलिए फायदेमंद साबित होने वाला है क्योंकि हम इस आर्टिकल के जरिए पतलेपन को खत्म करके मोटा कैसे बने यह उपाय आपके साथ शेयर करने वाले हैं, साथ ही आपको यह भी बताएंगे कि मोटा होने के लिए क्या करें।

1. अपनी भूख बढ़ाए

अधिकतर लोग तो पतलेपन का कारण कम भूख लगना है इस बात को स्वीकार ही नहीं करते हैं। वह लोग कहते हैं कि भला कम भूख लगने से पतलापन कैसे आ सकता है, तो बता दे मेरे भाई की जब आपको भूख कम लगती है तो आप खाना कम खाते हैं। इससे बॉडी में धातु का निर्माण कम होता है। इस प्रकार से अब आप यह समझ ले कि कम भूख लगना भी पतलेपन का कारण होता है। भूख बढ़ाने के लिए लीवर 52 टेबलेट अथवा सिरप अच्छी दवा मानी जाती है।

ये भी पढ़ें : हीमोग्लोबिन क्या है? हीमोग्लोबिन कैसे बढ़ाए?

इसे लेना चालू करें। 1 महीने के अंदर ही आपको अच्छे रिजल्ट मिलेंगे। अगर आप किसी चूर्ण का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो बता दे कि शतावरी चूर्ण, अश्वगंधा चूर्ण या फिर पतंजलि दिव्य चूर्ण अथवा त्रिफला चूर्ण मोटा होने के लिए कारगर माने जाते हैं। घरेलू उपाय के तौर पर आप लहसुन और शहद को एक साथ ले सकते हैं। यहां भी आपकी भूख को तेज करती है, जिससे आप अधिक खाना खाते हैं।

2. अपने खाने पर ध्यान दें

यही तो वह मुख्य चीज है जिसे अगर आप समझ लेते हैं तो समझ लीजिए अब आप और अधिक दिन तक पतलेपन से परेशान नहीं रहेंगे। दरअसल बात यह होती है कि हम खाना तो खाते हैं परंतु हमें यह नहीं पता होता है कि कौन सा खाना हमारी बॉडी को डिवेलप करता है और कौन सा खाना सिर्फ हमारा पेट भरता है। रोजाना हम जो दाल, चावल, सब्जी, रोटी खाते हैं यह सिर्फ पेट भरने के लिए होती है।

इनसे हमें ज्यादा मात्रा में पौष्टिक तत्व नहीं मिलते हैं परंतु लगातार इनका सेवन करने के कारण बॉडी में पौष्टिक तत्वों की कमी हो जाती है और इससे हम पतले हो जाते हैं। अब पतलेपन को दूर करना है तो तुरंत ही आपको अपने खाने में बदलाव करना है। आपको करना यह है कि आपको प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और फैट तथा विटामिन मिनरल वाली चीजें खाना चालू करना है।

ये भी पढ़ें : पेट कम कैसे करे?

अब आप सोचेंगे कि यह चीजें हमें कहां से मिलेंगी, तो बता दें कि यह चीजें आपको सोयाबीन,पनीर, टोफू, ब्रोकली, पीनट बटर, काजू, बादाम, पिस्ता, मूंग दाल, चना की दाल, चिकन, अंडा, दूध, दही, मछली इत्यादि चीजों से प्राप्त होगी। इनमें से अधिक से अधिक चीजों को अपने खाने में शामिल करें और फिर देखिए 2 महीने में ही कैसे आपका वजन बढ़ता है और आपका पतलापन दूर हो जाता है।

3. मल्टीविटामिन की टेबलेट ले

खाने में से तो हमें पौष्टिक तत्व मिलते हैं यह बात तो सभी लोग जानते हैं परंतु अब पौष्टिक तत्वों का विकल्प भी बन गया है। हम बात कर रहे हैं टेबलेट की। दरअसल विटामिन और मिनरल भी हमारी बॉडी के डेवलपमेंट के लिए आवश्यक होते हैं। यह हमें एनर्जी देते हैं, हमारी टेंशन को दूर करते हैं और हमारी बॉडी को चुस्त बना करके रखते हैं।

मार्केट में आपको Becadexamine नाम की एक टेबलेट मिल जाएगी। यह टेबलेट मल्टीविटामिन टेबलेट होती है जिसके अंदर आपको विटामिन ए, विटामिन बी, विटामिन सी, विटामिन डी, विटामिन ई, विटामिन के तथा अन्य विटामिन मिलते हैं। इसको जब आप खाना चालू करते हैं तो यह आपकी बॉडी में आवश्यक विटामिन की पूर्ति करता है।

ये भी पढ़ें : कोलेस्ट्रोल क्या होता है? कोलेस्ट्रोल को कम कैसे करे?

इससे खाने का पाचन भी सही से होता है और जब यह विटामिन अन्य पौष्टिक तत्वों के साथ मिलते हैं, तो सभी पौष्टिक तत्व मिलकर के आपकी बॉडी पर मांस चढ़ाते हैं और धातु का निर्माण करते हैं, जिसके कारण धीरे-धीरे पतलापन खत्म होने लगता है और आपका वेट बढ़ता है।

4. कसरत करना चालू करें

कहा जाता है कि अच्छा खाना खाने के साथ अगर आप कसरत करना भी चालू कर देते हैं तो काफी जल्दी से आपकी बॉडी रिकवरी करती है और आपका वेट तेजी के साथ ऊपर उठता है। दरअसल जब हम कसरत करते हैं तो हमारी बॉडी में जो भी मांसपेशियां सुस्त पड़ी हुई होती है वह भी एक्टिव हो जाती है,

क्योंकि उनकी स्ट्रैचिंग कसरत करने के दरमियान होती है और मांसपेशियां स्ट्रेच होने के कारण बॉडी में ब्लड सरकुलेशन अच्छा होता है, साथ ही हमारी पूरी बॉडी की ऑल ओवर एक्टिविटी भी तेजी के साथ होने लगती है। इससे डाइजेस्टिव सिस्टम भी अच्छे ढंग से काम करता है और बॉडी में मांस बनने की रफ्तार तेज हो जाती है।

ये भी पढ़ें : जानिए गर्म पानी पीने के फायदे और नुकसान क्या है?

आपने भी यह देखा होगा कि जब कोई व्यक्ति जिम जॉइन करता है तो जिम के ट्रेनर के द्वारा उसे खाने पर विशेष तौर पर ध्यान देने के लिए कहा जाता है, क्योंकि जब कसरत और अच्छा खाना दोनों एक साथ बॉडी को प्राप्त होते हैं, तो बॉडी तरक्की करती ही करती है। तो आज से ही मोटा होने के लिए या तो घर पर कसरत करना चालू कर दे या फिर जिम जाकर के अपनी मांसपेशियों की स्ट्रेचिंग करें।

मोटा ना होने के कारण क्या है?

  • कम भूख लगना
  • जठराग्नि का शांत होना
  • कम खाना खाना
  • अरुचि होना
  • पाचन शक्ति खराब होना
  • दिमाग का टेंशन
  • हार्मोन का असंतुलन
  • खाना सही से ना पचना
  • लीवर कमजोर होना
  • बॉडी का मेटाबॉलिजम तेज होना
  • पेट में कीड़े होना
  • कसरत ना करना
  • खून की कमी होना
  • सपना दोष होना
  • शीघ्रपतन की प्रॉब्लम होना

वजन कम होने के नुकसान क्या है?

  • बॉडी हड्डियों का ढांचा बनना
  • चेहरे पर हड्डियां उभरी हुई दिखाई देना
  • चेहरे का तेज चला जाना
  • थकान लगना
  • लगातार सर दर्द होना
  • कपड़े शरीर पर अच्छे ना लगना
  • दौड़ने पर जल्दी थक जाना
  • आसानी से बीमारियों की चपेट में आ जाना
  • रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर होना
  • चेहरे पर आसानी से पिंपल निकल आना
  • बॉडी में हीमोग्लोबिन कम होना
  • बॉडी में आयरन की कमी होना
  • आलस पन महसूस होना

वजन बढ़ाने की अच्छी दवाइयां कौन सी है?

  • अल्फाल्फा टॉनिक
  • शतावरी चूर्ण
  • अश्वगंधा चूर्ण
  • मुसली पाउडर
  • शिलाजीत
  • पतंजलि बादाम पाक
  • हिमालय क्विस्ता प्रो प्रोटीन पाउडर
  • मसलेब्लैज प्रोटीन पाउडर
  • जेनिथ न्यूट्रिशन मास गेनर
  • लिव-52 टेबलेट
  • साइपोंन सिरप
  • एप अप टेबलेट
  • डॉ बिस्वास गुड हेल्थ
  • हेल्थ प्लस कैप्सूल
  • पौरूष जीवन कैप्सूल
  • हरबॉबिल्ड कैप्सूल
  • सन्यासी आयुर्वेद सेहत टेबलेट

मोटा होने से संबंधित महत्वपूर्ण टिप्स

  • हस्तमैथुन करना बंद कर दें। यह आपको और कमजोर बना सकता है।
  • खाने में प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और फैट की सही मात्रा ले।
  • टेंशन लेना छोड़ दे।
  • लीवर कमजोर है तो लीवर को स्वस्थ रखने की अच्छी सी दवा ले ले।
  • खाना नहीं पचता है तो कोई अच्छा सा •आयुर्वेदिक चूर्ण ले ले या फिर अंग्रेजी दवा ले ले।
  • रोजाना कसरत करें। कसरत नहीं कर सकते तो घर पर ही रह कर योगा करें।
  • मन में गंदे ख्याल आते हैं तो तुरंत ही भगवान के भजन सुने।
  • रोजाना अपना वजन ना नापे। वजन रोज-रोज नहीं बढता है।
  • आपने मोटा होने का लक्ष्य बनाया है यह किसी को ना बताएं।
  • अपने अंदर संयम रखे, क्योंकि 1 दिन में ही वजन नहीं बढ़ता है। इसके लिए 1 से लेकर के 3 महिने तक का समय लग सकता है।
  • ट्रेनर की सलाह पर आप चाहें तो प्रोटीन पाउडर ले सकते हैं।
  • आयुर्वेदिक मोटा होने की दवा का सेवन भी आप कर सकते हैं।

मोटा होने से संबंधित अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

मेरा खाना सही से नहीं पचता है मैं क्या करूं?

आप पतंजलि त्रिफला चूर्ण का सेवन करें। यह खाने का पाचन सही से करता है।

क्या लिवर की कमजोरी के कारण भी पतलेपन की समस्या होती है?

लीवर कमजोर होने के कारण खाने के रस बॉडी के सभी अंगों तक नहीं पहुंच पाते हैं। इससे उनका विकास नहीं होता है और शरीर कमजोर हो जाता है।

पतलापन दूर करने के लिए प्रोटीन क्यों आवश्यक होता है?

प्रोटीन आपकी मसल्स को रिपेयर करता है और मसल्स को बढ़ाने का काम करता है जिससे पतलापन दूर होता है। इसलिए प्रोटीन की डिमांड बॉडी को अधिक होती है।

प्रोटीन किसमें पाया जाता है?

मास, दूध, दही, प्रोटीन पाउडर, अंडा, अरहर की दाल, सोयाबीन की दाल, चना तथा अन्य चीजों में।

पतलेपन को दूर होने में कितना समय लग सकता है?

अगर आप पतलेपन को दूर करने के लिए कारगर उपाय कर रहे हैं तो कम से कम 4 से 5 महीने में आप का पतलापन दूर हो सकता है।

पतलेपन को दूर करने का उपाय कब तक असर दिखाता है?

कम से कम 1 महीने में यह अपना असर दिखाता है। उसके बाद लगातार इंप्रूवमेंट होती जाती है

Underweight किसे कहा जाता है?

जिन लोगों का वजन 50 किलो से कम होता है, उन्हें अंडरवेट कहा जाता है।

निष्कर्ष

आज के इस लेख में आपने जाना की मोटा होने के लिए क्या खाना चाहिए? और दुबले पतले शरीर को मोटा कैसे बनाएं? इस लेख को पूरा पढ़ने के बाद भी अगर आपके मन में mota hone ke upay को लेकर कोई सवाल उठ रहा है तो आप नीचे Comment करके पूछ सकते हैं। हमारी विशेषज्ञ टीम आपके सभी सवालों का जवाब देगी। अगर आपको लगता है कि इस लेख में कोई गलती है तो आप नीचे Comment करके हमसे बात कर सकते हैं, हम उसे तुरंत सुधारने की कोशिश करेंगे।

अगर आपको हमारे द्वारा mota kaise ho पर दी गई जानकारी पसंद आई है और आपको इस लेख से कुछ नया सीखने को मिलता है, तो इसे अपने दोस्तों और परिवार के साथ जरूर शेयर करें। आप इस लेख का पोस्ट लिंक ब्राउजर से कॉपी कर सोशल मीडिया पर भी साझा कर सकते हैं।

Leave a Comment