स्टेमिना कैसे बढ़ाए? स्टेमिना बढ़ाने के उपाय क्या है? जानिए स्टेमिना बढ़ाने के एक्सरसाइज, योग और क्या खाये जे जुड़ी सभी जानकारी

आज हम जानेंगे स्टेमिना कैसे बढ़ाए पूरी जानकारी (stamina increase tips in hindi) के बारे में क्योंकि आर्मी या फिर पुलिस की भर्ती में दौड़ की तैयारी करने वाले लड़कों को हमेशा एक बात बताई जाती है कि भाई अपना स्टेमिना बढा, वरना जल्दी थक जाएगा और दौड़ पूरी नहीं कर पाएगा। ऐसे में वह यह सोचते हैं कि यह स्टेमिना नाम की कौन सी बला है जिसका जिक्र इतनी बार किया जा रहा है और इसका महत्व इतना क्यों है कि इसे बढ़ाने के लिए कहा जा रहा है।

बता दे कि स्टेमिना कोई नया शब्द नहीं है। यह अंग्रेजी में इसलिए शायद आप अभी तक नहीं जान पाए है कि स्टेमिना क्या है। स्टेमिना को बॉडी के अंदर की ताकत कहा जाता है अर्थात अगर आपकी बॉडी में स्टेमिना अच्छा है, तो आप बिना थके हुए किसी भी काम को काफी देर तक कर सकेंगे और अगर स्टेमिना का लेवल आपकी बॉडी में कम है, तो आप कुछ भी काम करने के 5 से 10 मिनट के बाद ही थकान महसूस करने लगेंगे।

सहनशक्ति क्या होता है? – What is Stamina or Endurance in Hindi

Stamina Kaise Badhaye
Stamina Kaise Badhaye

अगर आप Stamina को हिंदी में ट्रांसलेट करेंगे तो गूगल आपको इसका कुछ अलग मतलब बताएगा परंतु शुद्ध हिंदी में स्टेमिना का मतलब निकाला जाए तो इसका मतलब होता है आपकी बॉडी के अंदर की ताकत। कहने का मतलब यह है कि अगर आपकी बॉडी में स्टेमिना ज्यादा है तो आप लंबे टाइम तक मेंटल या फिर फिजिकल काम कर सकेंगे

और अगर स्टेमिना आपकी बॉडी में कम है तो इसके कारण आप किसी भी काम को करने में काफी जल्दी थक जाएंगे। मुख्य तौर पर Stamina वहां पर हमें फायदा दिलाता है, जहां पर हमें अधिक देर तक कोई काम करना पड़ता है। जैसे कि क्रिकेट खेलना, साइकल चलाना इत्यादि।

स्टेमिना का मतलब क्या होता है? – Stamina meaning in Hindi

बॉडी में अच्छा Stamina होने के कारण हम काफी लंबी दूरी तक बिना थके हुए दौड़ सकते हैं और इस दरमियान हमारी सास भी ज्यादा नहीं फुलेगी। अगर आपको यह अंदाजा लगाना है कि आपका स्टेमिना तेज है या फिर कम है तो आप थोड़ी दूर तक तेजी के साथ दौड़े। अगर आपको इस दरमियान थकान महसूस होती है या फिर आप की सांसें फूलने लगती है, तो समझ लीजिए कि आपका स्टेमिना कमजोर है।

ये भी पढ़ें : अनुलोम विलोम प्राणायाम क्या है? अनुलोम विलोम प्राणायाम के फायदे और नुकसान

और अगर आपकी सांसे कम फूलती है तथा आपको कम थकान महसूस होती है, तो समझ लीजिए आपका स्टैमिना अच्छा है। कम Stamina होने पर उसे बढ़ाया जा सकता है जिसके लिए कई तरीके हैं परंतु उन सभी तरीकों को काम करने में 4 से 5 महीने का समय लग सकता है। अपवाद स्वरूप यह समय कम अथवा ज्यादा भी हो सकता है।

स्टेमिना कम होने के लक्षण – Symptoms of Poor Stamina in Hindi

  • सिड़िया चढ़ने पर सांस फूलना
  • थोड़ी दूर जाने पर थकान लगना
  • किसी भी काम को चालू करने के बाद थकान महसूस होना
  • रह रह कर पसीना आना
  • भूख कम लगना
  • नींद ज्यादा आना
  • आंखों से पानी आना
  • चेहरे पर तेज ना रहना
  • हाथों में दर्द होना
  • पैरों में दर्द होना
  • शरीर में जकड़न होना
  • ज्यादा पानी पीने की इच्छा ना करना

स्टेमिना कम होने के कारण

  • नींद की कमी
  • कम पानी पीना
  • कार्बोहाइड्रेट की कमी
  • अत्याधिक हस्तमैथुन करना
  • सपना दोष होना
  • खाना सही से ना पचना
  • धातु का निर्माण सही से ना होना
  • पेट में पथरी होना
  • पेट में कब्ज होना

स्टेमिना बढ़ाने के घरेलू तरीके और उपाय – How to increase Stamina in Hindi

स्टेमिना के बारे में जो लोग नहीं जानते हैं वह यह सोचते हैं कि Stamina को नहीं बढ़ाया जा सकता है परंतु बता दें कि स्टेमिना को बढ़ाने के कई प्रभावी उपाय हैं जिसके बारे में हम आगे आपको बता रहे हैं। अगर आप कमजोर स्टेमिना का सामना कर रहे हैं तो नीचे बताए गए उपायों को करके आप अपने Stamina को तेज कर सकते हैं।

1. कैफीन बढ़ाए स्टेमिना

कैफीन चाय, कोल्ड ड्रिंक, कॉफी जैसी चीजों में भरपूर मात्रा में पाया जाता है। बता दे कि जब कैफिन ज्यादा हमारी बॉडी में जाने लगता है, तो इसके कारण हमारी बॉडी में लिपॉलिसिस की प्रोसेस तेज जाती है। इस प्रक्रिया में होता यह है कि हमारी बॉडी में जो फैट होता है, वह टूटता है और इसके कारण हमारी बॉडी को एक्स्ट्रा ऊर्जा मिलती है और जब बॉडी को एक्स्ट्रा ऊर्जा मिलती है तो स्वाभाविक सी बात है कि बॉडी का स्टेमिना तेज होता है।

2. अश्वगंधा बढ़ाए स्टेमिना

स्टेमिना बढ़ाने के लिए अगर आप कोई असरदार घरेलू नुस्खा अथवा उपाय ढूंढ रहे हैं तो बता दे कि अश्वगंधा पाउडर पर आपकी यह खोज समाप्त हो जाती है। वैज्ञानिक रिसर्च के अनुसार देखा जाए तो अश्वगंधा एक बहुत ही कारगर आयुर्वेदिक जड़ी बूटी है, जो स्टैमिना को तेज करने का काम करती है।

ये भी पढ़ें : चेहरे का निखार कैसे लाएं?

इसलिए अश्वगंधा का सेवन बॉडी बनाने के लिए किया जाता है जिसके कारण बॉडी भी बनती है और जिम में कसरत करने के लिए एक्स्ट्रा एनर्जी आती है। इस प्रकार से यह तय है कि अश्वगंधा Stamina तेज करने के लिए कारगर आयुर्वेदिक औषधि है।

3. प्रोटीन बढ़ाएं स्टेमिना

अपनी बॉडी के आंतरिक बल यानी कि स्टेमिना को तेज करने के लिए आप प्रोटीन वाली चीजें खाना आज से ही चालू कर दे, क्योंकि इसकी कमी बॉडी में होने पर Stamina कमजोर हो जाता है और अगर आप इसकी पूर्ति बॉडी में लगातार करके रखते हैं तो स्टेमिना हमेशा ऊंचा रहेगा।

प्रोटीन आपको दाल, चावल, सोयाबीन, पनीर, टोफू, पीनट बटर, मांस, दूध, दही, घी, मछली अंडा में मिल जाता है। अगर आप शाकाहारी हैं तो शाकाहारी चीजों को खाकर के प्रोटीन की पूर्ति करें और अगर आप मांसाहारी हैं, तो मांसाहारी चीजों को खा कर के अपनी बॉडी में प्रोटीन की पूर्ति करें।

स्टेमिना बढ़ाने के लिए क्या खाये? – How to increase Stamina by Food in Hindi

Stamina यानी की शरीर का आंतरिक बल और जब यहां पर शरीर के आंतरिक बल की बात हो रही है तो यह भी जाहिर सी बात है कि बॉडी को अंदर से मजबूत बनाने पर ही स्टेमिना तेज होगा और बॉडी तभी मजबूत बनेगी जब आप सामान्य खाने की जगह पर कुछ ऐसे खाने खाना चालू कर देंगे, जिसमें पौष्टिक तत्वों की कोई भी कमी ना हो, क्योंकि हमारी बॉडी खाने पर ही चलती है।

ये भी पढ़ें : लम्बाई कैसे बढ़ाये?

खाने में अगर आप प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और फैट वाली चीजों की समान मात्रा शामिल करते हैं तो यह आपकी बॉडी को ताकत देती है और बॉडी को काम करने के लिए एनर्जी भी देती है, जिससे स्टेमिना संभावित तौर पर बढ़ जाता है।नीचे हम आपको स्टेमिना तेज करने के लिए कौन-कौन सी चीजें अपने भोजन में शामिल करनी चाहिए, इसकी लिस्ट दे रहे हैं।

हो सके तो इन्हें खाना चालू कर दे, फिर देखिए कैसे आपका कमजोर Stamina 2 से 3 महीने के अंदर ही तेज होता है।पनीर,सोयाबीन, मांसाहारी खाना, पीनट बटर, मूंगफली, चावल, साबुत मूंगफली, साबुत सोयाबीन, ब्रोकली, फलों के रस, आइसक्रीम,टोफू, तिल के बीज, चिया के बीज, किडनी बींस,बादाम,पालक

स्टेमिना बढ़ाने के लिए एक्सरसाइज? – Stamina increase Exercise in Hindi

कमजोर स्टेमिना को तेज करने के लिए आपको अन्य उपायों के साथ ही साथ अपने स्टैमिना को टेस्ट करते रहना चाहिए। इसके लिए सबसे बढ़िया उपाय यह है कि आपको दौड़ना चालू कर देना चाहिए। अगर आपको जल्दी थकान महसूस होती है तो समझ लीजिए आपका स्टेमिना अभी भी कमजोर है और आपको अपने स्टैमिना को और तेज करने की आवश्यकता है।

एक्सरसाइज करने पर Stamina तेज होता है, इस बात में कोई भी दो राय नहीं है। इसीलिए आपको भी स्टेमिना को बढ़ाने के लिए एक्सरसाइज करना चालू करना चाहिए। नीचे हमने आपके लिए चुनकर के कुछ ऐसी एक्सरसाइज लाई है, जो स्टेमिना को बढ़ाने के लिए कई लोग करते हैं। आप भी इन्हें करना चालू करें और इसका फायदा लें।

  • तैराकी
  • स्विमिंग
  • रनिंग
  • डांस
  • जिम की सभी कसरत

स्टेमिना बढ़ाने के लिए योग – How to increase Stamina by Yoga in Hindi

योगा घर पर ही रह कर किया जा सकता है, यही इसका सबसे बड़ा फायदा है। इसीलिए जिन लोगों के पास जिम जाने का समय नहीं है, वह घर पर योगा कर सकते हैं। योगा में ऐसे कई आसन है जो स्वास्थ्य से संबंधित कई फायदे हमारे शरीर को देते हैं, साथ ही यह स्टेमिना भी बढ़ाते हैं और बॉडी के पाचन तंत्र को भी अच्छा बनाने का काम करते हैं।

नीचे आपको कुछ ऐसे ही योगासन के नाम हम दे रहे हैं, जो करने में भी काफी आसान है और यह स्टेमिना को बढ़ाने के लिए भी बहुत ही इफेक्टिव माने जाते हैं।

  • नौकासन
  • हनुमानासन योग
  • बालासन
  • कोणासन
  • सेतुबंधासन

दौड़ में स्टेमिना कैसे बढ़ाये?

स्टेमिना कम होने का एहसास हमें तब होता है, जब हमें कभी तेज दौड़ने की आवश्यकता पड़ती है, क्योंकि दौड़ने पर जब हमारी सांस फूलने लगती है तब हमें यह पता चलता है कि वाकई में हमारी बॉडी अंदर से कमजोर है। खास तौर पर तो जो बच्चे आर्मी और पुलिस भर्ती की दौड़ की तैयारी करते हैं।

उन्हें अपने स्टेमिना को तेज करने की आवश्यकता अधिक होती है, क्योंकि आर्मी और पुलिस की भर्ती में उन्हें 5 किलोमीटर की दौड़ को दौड़ना पड़ता है। इसलिए नीचे हमने आपको रनिंग स्टेमिना को तेज करने के कुछ ऐसे उपाय बताए हैं, जो आपके Stamina को बढ़ा देंगे।

  • दौड़ने से पहले पानी कम मात्रा में पिएं। इससे आपको पेट में भारीपन नहीं महसूस होगा।
  • हो सके तो आधा गिलास फल का रस पी लें। इससे आपको इंस्टेंट एनर्जी मिलेगी।
  • दौड़ने की शुरुआत धीमे धीमे करें और उसके बाद अपनी स्पीड तेज करें।
  • हो सके तो अपने पंजों पर दौड़ने का प्रयास करें। इससे आपको पैरों में जकड़न कम महसूस होगी।
  • दौड़ते समय मुंह से सांस बिल्कुल भी ना लें बल्कि नाक से ही सांस लें।
  • दौड़ते समय अपना मुंह ऊपर की तरफ करके रखें। इससे आपकी सास कम फुलेगी।
  • दौड़ने के दरमियान अपनी गति काबी तेज कभी धीमी न करे बल्कि एक समान गति से दौड़े। आवश्यकता हो तभी अपनी स्पीड बढ़ाएं।

स्टेमिना से संबंधित अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

स्टेमिना कम होने का सबसे मुख्य कारण क्या होता है?

इसका सबसे मुख्य कारण होता है किसी भी प्रकार की शारीरिक गतिविधि ना करना। हालांकि इसके अन्य कारण भी होते हैं।

दौड़ने पर सांस क्यों फूलती है?

दौड़ने पर अगर आपका स्टेमिना कमजोर है तो आपकी सांस फूलती है।

क्या दौड़ने से स्टेमिना बढाया जा सकता है?

जी हां रोजाना दौड़ लगा कर के आप धीरे-धीरे अपने कमजोर स्टेमिना को तेज कर सकते हैं।

क्या मार्केट में स्टेमिना बढ़ाने की दवा मिलती है?

जी हां मार्केट में कई ब्रांड के नाम से आपको Stamina को तेज करने की दवा मिल जाएगी।

स्टेमिना बढ़ाने की आयुर्वेदिक दवा कौन सी है?

शतावरी चूर्ण, अश्वगंधा चूर्ण, मूसली पाउडर, शिलाजीत, तुलसी

निष्कर्ष

आज के इस लेख में आपने जाना की स्टेमिना क्या होता है? और स्टेमिना कैसे बढ़ाए? (stamina increase tips in hindi) इस लेख को पूरा पढ़ने के बाद भी अगर आपके मन में stamina kaise badhaye को लेकर कोई सवाल उठ रहा है तो आप नीचे Comment करके पूछ सकते हैं। हमारी विशेषज्ञ टीम आपके सभी सवालों का जवाब देगी। अगर आपको लगता है कि इस लेख में कोई गलती है तो आप नीचे Comment करके हमसे बात कर सकते हैं, हम उसे तुरंत सुधारने की कोशिश करेंगे।

अगर आपको हमारे द्वारा stamina kaise badhaye पर दी गई जानकारी पसंद आई है और आपको इस लेख से कुछ नया सीखने को मिलता है, तो इसे अपने दोस्तों और परिवार के साथ जरूर शेयर करें। आप इस लेख का पोस्ट लिंक ब्राउजर से कॉपी कर सोशल मीडिया पर भी साझा कर सकते हैं।

Leave a Comment