योगर्ट क्या होता है? योगर्ट के फायदे, उपयोग और नुकसान क्या है? जानिए Yogurt Ke Fayde aur Nuksan से जुड़ी सभी जानकारी हिन्दी में

आज हम जानेंगे योगर्ट के फायदे और नुकसान क्या है पूरी जानकारी (Yogurt in Hindi) के बारे में क्योंकि दूध के अंदर बहुत सारे प्रोटीन और विटामिन होते हैं। इसीलिए तो नए पैदा होने वाले बच्चों को भी मां का दूध दिया जाता है और बड़े हो चुके बच्चों को भी गाय/भैंस का दूध दिया जाता है। यही नहीं दुनिया के कई ऐसे इलाके हैं, जहां पर गधी और कुत्तिया का तथा बकरी का दूध भी पिया जाता है। बकरी के दूध को पी करके आप 1 ही महीने में अपनी शारीरिक कमजोरी को दूर कर सकते हैं।

यह बात आप जानते हैं कि दूध का इस्तेमाल करके कई अन्य चीजों को बनाया जाता है। जैसे कि पनीर, दही, घी, मावा, मक्खन इत्यादि। दूध से एक और स्वादिष्ट और अच्छी चीज बनती है जिसे योगर्ट कहा जाता है। आज के इस लेख में जानेंगे कि Yogurt Kya Hota Hai, योगर्ट के फायदे, Yogurt in Hindi, योगर्ट के नुकसान, Yogurt meaning in Hindi, आदि की जानकारीयां पूरा डिटेल्स में जानने को मिलेगा, इसलिये इस लेख को सुरू से अंत तक जरूर पढे़ं।

योगर्ट क्या होता है? – What is Yogurt in Hindi

Yogurt In Hindi
Yogurt In Hindi

जिस प्रकार दही का कलर सफेद होता है, उसी प्रकार योगर्ट का कलर भी सफेद होता है। योगर्ट एक प्रकार का खाद पदार्थ है, जिसे तैयार करने के लिए दूध का इस्तेमाल किया जाता है। यह दूध गाय का भी हो सकता है अथवा भैंस का भी हो सकता है। बता दे कि योगर्ट के अंदर आपको बहुत सारे फ्लेवर मिल जाते हैं। इसलिए इसे मार्केट में कई फ्लेवर में पैक करके बेचा जाता है।

योगर्ट के सबसे स्वादिष्ट फ्लेवर के बारे में बात करें तो इसके सबसे स्वादिष्ट फ्लेवर ब्लूबेरी, स्ट्रौबरी और मैंगो है। इसे टेस्ट करने पर हमें इसका टेस्ट बिल्कुल दही की तरह खट्टा ही महसूस होता है और आपको मार्केट में यह छुट्टा भी मिल जाता है तथा पैकिंग में भी मिल जाता है।

योगर्ट के प्रकार – Types of Yogurt in Hindi

दही कई किस्मों में उपलब्ध होता है, जिनका उल्लेख नीचे किया गया है-

  1. लो फैट योगर्ट – लो-फैट योगर्ट 2 प्रतिशत दूध से बनता है। बिना फैट वाला योगर्ट 0% या बिना मलाई वाले दूध से बनाया जाता है।
  2. केफिर – यह तरल योगर्ट होता है, जिसमें प्रोबायोटिक्स होते हैं।
  3. ग्रीक योगर्ट – यह दही गाढ़ा और क्रीमी होता है। ग्रीक Yogurt फुल फैट, लो फैट और नॉन-फैट या जीरो प्रतिशत में उपलब्ध है।
  4. फ्रोजन योगर्ट – इस योगर्ट को अक्सर आइसक्रीम बनाया जाता है।

योगर्ट कैसे बनाएं? – How to make Yogurt in Hindi

नीचे दी गई विधि को सावधानी के साथ फॉलो करें और योगर्ट घर पर ही तैयार कर ले।

1. होममेड योगर्ट तैयार करने के लिए आपको 4 पुल फैट वाला दूध लेना होगा और आपको दो चम्मच दही लेनी होगी। इसके साथ आपको एक मलमल का साफ कपड़ा लेना होगा।

2. सभी सामग्रियों को इकट्ठा करने के बाद आपको सबसे पहले गैस चालू करनी है और उसके ऊपर सोसपैन रखना है और उसके अंदर आपको दूध डाल देना है और फिर आपको दूध को उबलने देना है। यह प्रक्रिया 3 से 4 मिनट तक आपको होने देनी है।

3. उसके बाद आपको सासपैंन के ऊपर ढक्कन रख देना है और फिर गैस बंद कर देनी है और इसे 1 घंटे के लिए ठंडा होने के लिए छोड़ देना है।‌अगर आप जल्दी से इसे ठंडा करना चाहते हैं तो आप इसे फ्रीज में भी डाल सकते हैं।

ये भी पढ़ें : अश्वगंधा क्या होता है? अश्वगंधा खाने के फायदे, उपयोग और नुकसान क्या है?

4. ठंडा हो जाने के बाद आपको दही जमा लेनी है। फिर अगले दिन आपको एक लोटा लेना है और उसके ऊपर आपको मलमल का कपड़ा डालना है और उसे टाइट पकड़ लेना है।

5. अब आपको जो दही अपने जमाई है, उसे इसके अंदर डालना है और फिर इसे 2 से 4 घंटे के लिए ऐसे ही छोड़ देना है। इस बीच में होगा यह कि जो दही में एक्स्ट्रा पानी रहेगा, वह लोटे में चला जाएगा और कपड़े के ऊपर जो गाढा पेस्ट रहेगा, वही योगर्ट होगा।

6. अब आपको तैयार Yogurt को किसी ऐसे डिब्बे में बंद करके रखना है, जिसमें हवा बिल्कुल भी अंदर ना जा सके। इस प्रकार आप घर पर ही योगर्ट तैयार कर सकते हैं।

योगर्ट के फायदे – Benefits of Yogurt in Hindi

नीचे जानिए उन सभी फायदों के बारे में जो योगर्ट का सेवन करने से आपको मिलते हैं।

1. ऑस्टियोपोरोसिस में है फायदेमंद

योगर्ट आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ऐसे लोग जो ओस्टियोपोरोसिस नाम की समस्या से परेशान है और काफी इलाज करने के बावजूद भी उन्हें इस समस्या से छुटकारा नहीं मिल पा रहा है वह एक बार Yogurt को अवश्य ट्राई करें।बता दे कि यह एक ही दिन में आपको चमत्कार नहीं दिखा देगा

परंतु मेडिकल एक्सपर्ट्स के अनुसार यह कहा गया है कि Yogurt के अंदर प्रोटीन, फास्फोरस और कैल्शियम की बहुत ही अच्छी मात्रा पाई जाती है, जो हड्डियों को स्वस्थ बनाने का काम करती है और सिर्फ यह हड्डियों को ही मजबूत बनाने का काम नहीं करती है, बल्कि यह आपकी बॉडी में जो मांसपेशियां कमजोर हो चुकी है, उन्हें भी स्ट्रांग करती है।

2. बॉडी को हाइड्रेट रखे योगर्ट

बॉडी में जब पानी की अत्यधिक कमी हो जाती है, तब हमारी बॉडी डिहाइड्रेशन मोड में चली जाती है जिसमें हमें थकान महसूस होने लगती है। इसे वापस से ठीक करने के लिए बॉडी को हाइड्रेट रखना आवश्यक होता है। पानी पी कर के आप अपनी बॉडी को तो हाइड्रेट रख सकते हैं, साथ ही अगर आपके पास योगर्ट उपलब्ध है तो आप इसे खा कर के भी अपनी बॉडी में पानी के लेवल को बरकरार रख सकते हैं। इससे आपकी बॉडी डिहाइड्रेशन मोड से वापस से हाइड्रेट मोड में आ जाएगी और चक्कर आने की प्रॉब्लम तथा सर दर्द वाली प्रॉब्लम भी छूमंतर हो जाएगी।

3. ब्लड प्रेशर कंट्रोल करें योगर्ट

अधिकतर ऐसे ही लोगों को ब्लड प्रेशर की ज्यादा समस्या होती है, जो वृद्ध हो चुके होते हैं परंतु आज के गलत खान-पान के कारण जवान लोगों को भी यह समस्या होने लगी है। इसे समय रहते अगर कंट्रोल नहीं किया जाता है, तो यह आपकी जान भी ले सकती है। ब्लड प्रेशर को कुछ हद तक योगर्ट कंट्रोल कर सकता है।

ये भी पढ़ें : मखाना क्या होता है? मखाना खाने के फायदे, उपयोग और नुकसान क्या है?

ऐसा कुछ मेडिकल एक्सपर्ट का कहना है। उनके अनुसार फाइबर और पोटेशियम से लैस योगर्ट अगर कोई व्यक्ति रोजाना खाना चालू करता है, तो यह ब्लड प्रेशर के बढ़ने की रफ्तार को कम करने में सहायक साबित होता है। हालांकि वास्तव में यह ऐसा करता है या नहीं, इसके बारे में अभी और रिसर्च होनी बाकी है।

4. सफेद पानी को रोके Yogurt

सफेद पानी की प्रॉब्लम उन महिलाओं को ज्यादा होती है, जिनका पीरियड लगातार आता है या फिर जो पेट से होती है। बता दें कि आपने ल्यूकोरिया नाम की बीमारी का नाम सुना ही होगा। इसे ही सफेद पानी आना कहा जाता है।‌कहीं-कहीं पर इसे श्वेत प्रदर भी कहा जाता है।

यह समस्या जिन लोगों को होती है उन्हें योनि में से सफेद पानी आने की शिकायत होती है, जो कि काफी बदबूदार होता है। इसे ठीक करने के लिए योगर्ट का सेवन किया जा सकता है, क्योंकि योगर्ट में पाए जाने वाले पौष्टिक तत्व सफेद पानी को रोकने में सहायक साबित होते हैं। लगातार 1 से 2 महीने इसका सेवन आपको अत्यधिक लाभ दे सकता है।

5. वजन कम करें योगर्ट

मोटापा की समस्या ऐसे लोगों को अधिकतर होती है, जो अनियमित खानपान का पालन करते हैं या फिर किसी अन्य गलती के कारण यह समस्या उन्हें हो जाती है। स्त्री और पुरुष दोनों ही मोटापे का शिकार बड़ी आसानी के साथ हो जाते हैं और जब कोई व्यक्ति मोटापे का शिकार हो जाता है, तो आसानी से उसका मोटापा नहीं जाता है, क्योंकि मोटा होने पर आदमी के पेट और नितंब के आसपास काफी ज्यादा चर्बी जम जाती है, जो देखने में बहुत ही भद्दी दिखाई देती है।

इसे दूर करने के लिए योगर्ट को इस्तेमाल में लिया जा सकता है। इसके अंदर पाए जाने वाले मैग्निशियम, फाइबर और पोटेशियम मोटापे को पैदा करने वाली चर्बी को गलाने का काम करती हैं। इससे मोटापा तो कम होता ही है, साथ ही मोटापे के कारण होने वाली अन्य समस्याओं से भी आदमी की रक्षा होती है।

6. कब्ज का खात्मा करता है योगर्ट

कब्ज होने पर जब कोई महिला या फिर पुरुष टॉयलेट करने जाता है, तो उसे अत्याधिक परेशानी होती है, क्योंकि पेट में कब्ज होने की अवस्था में उसका मल स्ट्रांग हो जाता है, जो आसानी से गुदा के माध्यम से बाहर नहीं निकलता है। उसे अपने मल को बाहर निकालने के लिए तेज प्रेशर लगाना पड़ता है। इससे लीवर पर भी काफी बुरा प्रभाव पड़ता है।

ये भी पढ़ें : पीनट बटर क्या होता है? पीनट बटर खाने के फायदे, उपयोग और नुकसान क्या है?

इसे दूर करने के लिए कब्ज निवारक योगर्ट का सेवन आपको करना चाहिए। यह कब्ज की प्रॉब्लम को दूर करने के साथ ही साथ गैस की समस्या को भी खत्म करता है। इससे आपको टॉयलेट करने के दरमियान दर्द महसूस नहीं होता है और ऐसा होने से आपके लीवर पर भी ज्यादा प्रेशर नहीं पड़ता है।

7. बालों को मुलायम बनाए योगर्ट

पुरूष यह चाहते हैं कि उनके बाल अच्छे बने रहे परंतु महिलाएं यह चाहती हैं कि उनके बाल अच्छे तो बन ही रहे, साथ ही वह अधिक से अधिक लंबे हो, क्योंकि महिलाओं को अधिक लंबे बाल बहुत ही पसंद होते हैं। खैर पुरुष और महिला दोनों अपने बालों को लंबा करने के लिए योगर्ट का सेवन कर सकते हैं। इसे खाने पर पोटेशियम और मैग्नीशियम आपके शरीर के अंगों को पोषण देने का काम करता है। इससे होता क्या है कि यह आपके बालों की जड़ो को  स्ट्रांग बनाता हैं और इस प्रकार से उनका टूटना कम हो जाता है।

8. त्वचा पर निखार लाए योगर्ट

Yogurt का स्वाद खट्टा होता है। इसलिए लिमिट मात्रा में इसका सेवन करने पर बॉडी में जाने के बाद यह जहरीले तत्वों को बाहर निकलने का काम करता है, साथ ही थोड़ी थोड़ी मात्रा में यह आपके खून को छान कर के उसे शुद्ध करने का काम भी करता है। इसके अलावा इसके अंदर पाए जाने वाले पोटेशियम और फास्फोरस ब्लड सरकुलेशन भी बॉडी में अच्छा करने का काम करते हैं। इससे आपकी पूरी त्वचा पर निखार आता है और आपके चेहरे पर भी ब्राइटनेस आती है।

योगर्ट का उपयोग – Use of Yogurt in Hindi

  • इसे नाश्ते में ले सकते हैं।
  • केक बना सकते हैं।
  • खट्टापन लाने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • रायता में डाल सकते हैं।
  • सब्जी में डाल सकते हैं।
  • मटन में डाल सकते हैं।
  • छाछ के अंदर मिक्स कर सकते हैं।
  • सामान्य दही के साथ ले सकते हैं।
  • शरबत बना सकते हैं।
  • चीनी मिलाकर पी सकते हैं।
  • पुलाव में डाल सकते हैं।

योगर्ट में पाए जाने वाले पोषक तत्व – Yogurt Nutritional Value in Hindi

फॉस्फोरस, कैल्शियम, राइबोफ्लेविन, विटामिन B2, जिंक, पोटैशियम, आयोडिन, विटामिन B-12, विटामिन डी, कार्बोहायड्रेट, डाइटरी फाइबर, आयरन, पैंटोथेनिक एसिड, विटामिन B6, मैग्नीशियम, कॉपर, थाइमिन, नियासिन

योगर्ट के नुकसान – Side Effects of Eating Yogurt in Hindi

योगर्ट के संभावित नुकसान नीचे आपको मेंशन किए गए हैं।

1. खट्टी डकार आना

योगर्ट का स्वाद खट्टा होता है। इसलिए अगर आप इसे लिमिट मात्र में खाते हैं तो कोई समस्या नहीं है परंतु ज्यादा खा लेते हैं तो आपको रह-रहकर खट्टी डकार आ सकती हैं। ऐसा इसलिए होगा क्योंकि आपके पेट में गैस या फिर एसिडिटी की प्रॉब्लम होगी।

2. उलटी

जब आप मार्केट में योगर्ट खरीदने के लिए जाएं अथवा कहीं से भी आप योगर्ट खरीदे, तो यह ध्यान रखें कि वह एक्सपायर ना हुआ हो। अगर आप एक्सपायर Yogurt खा लेते हैं तो आपको फूड प्वाइजनिंग हो सकती है अथवा उल्टी भी हो सकती है।

ये भी पढ़ें : कीवी क्या होता है? कीवी फल के फायदे, उपयोग, इस्तेमाल और नुकसान क्या है?

3. कफ

कई लोग योगर्ट खाने के बाद गन्ने का जूस पी लेते हैं या फिर कोई मीठी चीज खा लेते हैं। अगर ऐसा आप ठंडी के महीनों में करते हैं, तो आपको कफ की समस्या हो सकती है।

योगर्ट कब खाना चाहिए? – When to eat yogurt in Hindi

कई लोग यह जानने का प्रयास करते हैं कि आखिर योगर्ट कब खाना चाहिए अथवा योगर्ट खाने का सही समय क्या है, तो उन्हें बता दें कि यह कोई मेडिसिन नहीं है कि इसे आपको टाइम टू टाइम खाना चाहिए। आपका जब मन करे तब आप लोग इसे खा सकते हैं। हां पर इतना याद रखें कि ठंडी के महीने में आपको इसे रात में नहीं खाना है, वरना आपको काफी समस्या हो सकती है। इसके अलावा आप इसे सुबह, दोपहर, शाम को कभी भी खा सकते हैं।

योगर्ट से संबंधित अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

क्या योगर्ट और दही एक ही है?

नहीं यह दोनों अलग अलग है।

सबसे पहले अस्तित्व में क्या आया दही अथवा योगर्ट

दही

दही कौन से बैक्टीरिया से बनता है?

लैक्टोबैसिलस

योगर्ट कैसा दिखाई देता है?

क्रीम के रूप में

Yogurt कहां का शब्द है और इसकी शुरुआत कहां से हुई?

यह तुर्की का शब्द है और इसकी शुरुआत मध्य एशिया से हुई।

योगर्ट किसके दूध से बनता है?

गाय,भैंस, बकरी, दूध, याक,ऊंट

योगर्ट का स्वाद कैसा होता है?

खट्टा

एक कटोरी योगर्ट में कितनी कैलरी होती है?

120 KCAL

निष्कर्ष

आज के इस लेख में आपने जाना की योगर्ट क्या होता है? और योगर्ट के फायदे और नुकसान? (Yogurt in Hindi) इस लेख को पूरा पढ़ने के बाद भी अगर आपके मन में Yogurt Ke Fayde aur Nuksan को लेकर कोई सवाल उठ रहा है तो आप नीचे Comment करके पूछ सकते हैं। हमारी विशेषज्ञ टीम आपके सभी सवालों का जवाब देगी।

अगर आपको लगता है कि इस लेख में कोई गलती है तो आप नीचे Comment करके हमसे बात कर सकते हैं, हम उसे तुरंत सुधारने की कोशिश करेंगे। अगर आपको हमारे द्वारा Yogurt in Hindi पर दी गई जानकारी पसंद आई है और आपको इस लेख से कुछ नया सीखने को मिलता है, तो इसे अपने दोस्तों और परिवार के साथ जरूर शेयर करें। आप इस लेख का पोस्ट लिंक ब्राउजर से कॉपी कर सोशल मीडिया पर भी साझा कर सकते हैं।

Leave a Comment